-->

सैड स्टेटस शायरी हिंदी sad status hindi shayari dard bhari shayari

 

dard bhari shayari for girl friend


dil to hmara wo aaj bhi bahla dete hain.

fark hai to itna pahle hsaa dete the 

ab rula dete hain 


''दिल 💖 तो  हमारा _ वो  आज  भी👯  बहला  देते  हैं .

फर्क 🌷 है  तो  इतना 😡 पहले  हंसा   देते  थे  

😪अब  रुला  देते  हैं ,,


क्या बात है बड़े चुपचाप बैठे हो,

कोई बात दिल पर लगी है,

या दिल कहीं लगा बैठे हो


इंसान जिंदगी में सिर्फ एक बार मोहोब्बत करता है,

बाकी मोहोब्बते तो वो पहली बाली मोहोब्बत को भुलाने  के लिए करता है 


 दिल तो बहुत करता है की तुमसे बात करूँ,

लेकिन दिल की ये जिद्द है की शुरुआत तुम करो 


बहुत रोइ हूँ आज में ये सोचकर दोस्तों,

जिसे जान से ज्यादा चाहो वो,

क्यो किसी और का हो जाता है 


हमभी खुदको इतना बदल लेंगे,

के लोग तरस जायेंगे ,

हमें पहले जैसा देखने के लिए 


जरूरत से ज्यादा चाहना किसी को,

जरूरत से ज्यादा ज़लील कर देता है 


मरने वाले तो बिना बताये ही मर जाते है,

हर रोज़ तो वो मरते है,

जो हद्द से ज्यादा किसी से प्यार करते है 


किसी से प्यार करो तो हमेशा उसके दिल के करीब रहो,

बरना वक़्त उसे आपके बिना जीना सिखा देगा


बचपन से लेकर आजतक बस अच्छे काम ही किये है,

बस जवानी में गलती से इश्क़ हो गया 


तुम ने समझा ही नहीं,और ना समझना चाहा,

हम चाहते ही क्या थे तुमसे तुम्हारे सिवा 


जानते हो मोहोब्बत किसे कहते है,

किसी को दिल से चाहना,

उसे हार जाना,

और फिर खामोस रहना


आदत बना ली मैंने खुद को तकलीफ देने की,

ताकि जब कोई अपना तकलीफ  दे तो ज्यादा तकलीफ ना हो


टूट कर चाहना और फिर टूट जाना,

बात छोटी जरूर है मगर जान निकल जाती है  


मुझे सिर्फ इतना बता दो,

इंतज़ार करू या फिर बदल जाऊ तुम्हारी तरह


अब मोहोब्बत नहीं रही इस ज़माने में,

क्योकि अब लोग मोहोब्बत नहीं मजाक किया करते है


धोखा देने के लिए शुक्रिया,

अगर तुम न मिलते तो दुनिया समझ में नहीं आती


मत किया कर ए दिल मोहोब्बत इतनी,

जो लोग बात नहीं करते, वो मोहोब्बत क्या करेंगे 


वो मुझसे दूर रह कर खुस है,

और में उसे खुस देखने के लिए दूर हूँ


मैंने माँगा था थोड़ा सा उजाला अपनी जिंदगी में,

चाहने वालों ने तो आग ही लगा दी 


वो मेरे पास उस वक़्त होते है,

जब उनके पास कोई नहीं होता 


कोई अगर ठुकरा दे तो हंस के सेह लेना,

क्योकि मोहोब्बत जबरदस्ती नहीं होती 


पुरानी तसवीरें देखकर अक्सर,

लवों में मुस्कान और आँखों में आँशु आ जाते है,

ये सोचकर की कितना कुछ बाल गया है 


अक्सर बदल जाते है वो लोग,

जिन्हें हद से ज्यादा समय दिया जाता है 


मौत तो नाम से बदनाम है दोस्त,

बरना तकलीफ तो जिंदगी भी बहुत देती है 


लोग कहते है की किसी एक के चले जाने से हमारी जिंदगी नहीं रुक जाती ,

लेकिन ये कोई नहीं जानता के, लाखों के आ जाने से भी उसकी कमी पूरी नहीं होती 


जो बदल जाए वो यार कैसा,

और जो छोड़ जाए वो प्यार कैसा 


कदर करने वालों को हमेशा ही,

बे-क़दर लोग ही मिलते है 


तन्हाईयाँ बेवजह नहीं होती,

कुछ दर्द आवाज चीन लिया करते है 


किसी को गलत समझने से पहले,

एकबार उसके हालात समझने की कोशिस करो


ना तो अनपढ़ रहे न काबिल बने,

हम खामखां ये इश्क़ तेरे School में दाखिल हुए


कितना मुश्किल था उस सख्स से अलबिदा कहना,

जिससे मिलने की दुआएं मांगी थी रात दिन 


मेरे दिल का दर्द किसने देखा, मुझे बस खुदा ने तड़फते देखा

हम तन्हाई में बैठकर रोते है, लोगों ने हमें महफिलों में हँसते देखा है 


आज परछाई से पूछ ही लिया, क्यों चलती हो मेरे साथ,

उसने भी हांस के कहा, दूसरा कौन है तेरे साथ


मोहोब्बत निभाने वाले, 

सिर्फ किस्मत वालों को ही मिलते है


ना कर जिद्द अपनी हद में रह ए दिल,

वो बड़े लोग है अपनी मर्ज़ी से याद  करते है


उसे फुर्सत ही कहाँ जो वो वक़्त निकाले,

आजकल ऐसे होते है चाहने वाले


अगर दुनिया में ये जात-पात ना होती,

तो पता नहीं कितने दिल टूटने से बच जाते 


निकले हम दुनिया की भीड़ में तो हमें पता चला,

हर वह सख्स अकेला  है जिसने मोहोब्बत की है


कभी-कभी जब हम किसी के बारे में सोच रहे होते है,

तो आंसू अपने आप ही आ जाते है 


बंदे को इतना तो मज़बूत जरूर होना चाहिए,

की कोई इग्नोर करे तो रति भर भी परवाह ना हो


सिमट गया प्यार मेरा चंद लफ़्ज़ों में,

जब उसने कहा मोहोब्बत तो है, पर तुझसे नहीं 


कुछ लोग ऐसे भी होते है जिनके लिए आप अपना सब कुछ कुरवान भी करदो,

वो फिर भी अंत में यही कहेंगे,"क्या मैंने कहा था करने को"


कितना जानता होगा वो सख्स मेरे बारे में,

जो मुझे हँसता देख कर बोला,"उदास क्यों हो"


तुम मुझसे दूर हो इसका शिकवा नहीं मुझको,

किसी और के करीब हो तुम बर्दास्त तो बस ये नहीं होता


कुछ चीज़ें ऐसे टूटती है की,

दुबारा उन्हें जोड़ना मुमकिन नहीं होता


आज नहीं पूछते हो हाल तो क्या हुआ,

कल एक एक से पूछोगे की उसे हुआ क्या था 


चलो बताऊँ एक निशानी तुम्हे उदास लोगों की,

कभी गौर करना ये हँसते बहुत है


बहुत शोक था हमें भी दिल लगाने का,

शोक-शोक में जिंदगी बर्बाद कर बैठे


आजकल की मोहोब्बत का यही असूल है,

तुम जिसको याद करके रो रहे हो,

वो किसी और को खुस करने में मसरूफ है 


आदत बदल सी गयी है वक़्त काटने की,

 हिम्मत ही नहीं होती अपना दर्द बाटने की


कभी-कभी ऐसा भी होता है की सकूं के लिए,

 दवा की नहीं किसी की दुआ की जरूरत होती है


कितने अजीब है इस ज़माने के लोग,

खिलौना छोड़कर जज्बातों से खेलते है


उसे मिल गए उसकी बराबरी के लोग,

मेरी गरीबी मेरी मोहोब्बत की कातिल निकली


बार-बार माफ़ तो किया जा सकता है,

पर भरोसा सिर्फ एक बार ही होता है


ये तो न कह की किस्मत की बात है,

मेरी बर्बादी में तेरा भी तो हाथ है


तोड़ कर जोड़ लो चाहे हर चीज़ जिंदगी की,

सब कुछ काबिल-ए -मरम्त है एतबार के सिबा


आओ फिरसे दोहराये अपनी कहानी,

मैं तुम्हे बेपन्हा चाहूंगा और तुम मुझे बेवजह छोड़ जाना


यूं ही हम दिल को साफ़ रखा करते थे,

पता ही नहीं था की कीमत चेहरों की होती है दिल की नहीं 


वो रो-रो कर कहती रही की मुझे नफरत है तुमसे,

मगर एक  सवाल आज भी परेशान किये हुए है,

की अगर नफरत ही थी तो वो इतना रोइ क्यों???


पास आकर सभी दूर चले जाते है,

अकेले थे हम अकेले ही रह जाते है 


बहोत अंदर तक तबाही मचा देता है वो अश्क़,

जो आँख से बेह नहीं पाता


तुम भी करके देखलो मोहोब्बत किसी से,

जान जाओगे की आखिर हम मुस्कुराना क्यों भूल गए


मेरे दुःख तो मेरे रब को पता है,

तुमने तो बस मेरी हंसी देखी है 


डर मुझे ढूंढ लेता है हर बहाने से,

वो हो गया है बाक़िफ़ मेरे हर ठिकाने से


न साथ किसी का न सहारा है कोई,

न हम किसी के न हमारा है कोई 


आज सोचा की कुछ तेरे सिवा सोचूँ,

अभी तक इसी सोच में हूँ की क्या सोचूँ


जरा सी ग़लतफहमी पर न छोड़ो किसी अपने का दामन,

क्योकि जिंदगी बीत जाती है किसी को अपना बनाने में


कभी-कभी हम किसी के लिए उतने भी

 जरूरी नहीं होते, जितना हम सोच लेते है


यूं ही खाली रहेंगे जिंदगी के ये पन्ने,

जो तुम नहीं तो कुछ भी नहीं


ख़त्म हो गए उन लोगों से रिश्ते भी,

जिनसे मिल कर लगता था जिंदगी भर साथ देंगे


 जब किसी का भरोसा टूटता है, 

तो सबसे पहले जुबान खामोश हो जाती है 


न चाहते हुए भी छोड़ना पड़ता है साथ कभी-कभी,

 कुछ मजबूरियां मोहोब्बत से भी गहरी होती है


बेचैनियां बाज़ारों में नहीं मिला करती मेरे दोस्त,

इन्हें बाटने वाला कोई बहुत नज़दीक का होता है


जान से मार दे मुझे,

पर मुझे छोड़ जाने का जुलम मत कर 


यूं ही खाली रहेंगे जिंदगी के ये पन्ने,

जो तू नहीं तो कुछ भी नहीं 


कभी-कभी सबके सामने हंसना ,

तन्हा रोने से ज्यादा तकलीफ देता है 


किसी को न पाने से जिंदगी खत्म नहीं होती लेकिन,

किसी को पाकर खो देने के बाद कुछ बाकी भी नहीं रहता


भरोसा जितना कीमती होता है,

धोखा उतना ही महंगा हो जाता है 


अजीब खेल है ये मोहोब्बत का,

किसी को हम नहीं मिले,

तो कोई हमें नहीं मिला 


सकूं की तलाश में हम दिल बेचने निकले थे,

खरीददार दर्द भी दे गया, और दिल भी ले गया 


ठीक है बदल जाओ तुम,

लेकिन ये याद रखना की हम बदल गए तो,

तुम करवटें बदलते रह जाओगे


बहुत मुश्किल से करता हूँ तेरी यादों का कारोबार,

 मुनाफा कम है पर गुज़ारा हो ही जाता है 


खुस रहना तो हमने भी सीख लिया था उनके बगैर,

मुद्द्त बाद उन्होंने हाल पूछ के बेहाल कर दिया 


यूं मोहोब्बत का दिखावा न किया कर हमसे,

 मुझे मालूम है तेरी वफ़ा की डिग्री फर्जी है


मोहोब्बत अगर एक तरफा होती तो जुदाई भी सेह लेते,

दर्द तो इस बात का है की मोहोब्बत तो उसे भी थी


बड़ी हिम्मत दी है उसकी जुदाई ने,

ना ही किसी को खोने का डर है,

और न ही किसी को पाने की चाह


जिंदगी तुझसे एक  ही सबक सीखा है,

वफ़ा सबसे करो, मगर वफ़ा की उम्मीद किसी से मत करो


शायद उमीदें ही होती है गम की वजह,

बरना ख्वाहिसे रखना कोई गुन्हा तो नहीं


झूठी मोहोब्बत, वफ़ा के वादे, साथ निभाने की कस्मे,

इतना सब किया तूने, सिर्फ मेरे साथ Timepass करने के लिए 


मोहोब्बत अगर किसी से करनी हो तो हद्द में रह कर करना,

बरना अगर किसी को बेपन्हा चाहोगे तो बिखर जाओगे


जिंदगी में जिसपर सबसे ज्यादा भरोसा हो,

जब वही इंसान धोखा देता है,

तो मन करता है मर ही जाओ 


अपना बना कर फिर कुछ दिनों में बेगाना बना दिया,

भर गया दिल हमसे और मजबूरी का बहाना बना दिया


कहते है LIfe में एक बार लव जरूर होता है,

पर जिससे Love होता है वो अपना कभी नहीं होता


हम उसकी गलती थे साहब,

उसने गलती सुधार ली और मेरी जिंदगी उजाड़ दी 


अजीब किस्सा है जिंदगी का,

अजनबी हाल पूछ रहे है,

और अपनों को खबर तक नहीं 


कहते है मेहनत के बिना किसी को कुछ नहीं मिलता,

पता नहीं इतने गम पाने के लिए मैंने कौन सी मेहनत की थी 


इतनी ठोकरे देने का शुक्रिया ए जिंदगी,

चलने का न सही, सँभलने का हुनर तो आ ही गया 


बुरा लगता है हर बार Message करके किसी को अपनी याद दिलाना,

जिसमे वफ़ा होती है वह खुद ही Message कर लेता है 


उस दर्द से भी दोस्ती कर ली है मैंने,

जो किसी अपने ने दिया था 


किसी ने मुझ से पूछा की पूरी जिंदगी क्या किया,

मैंने भी हंस कर कह दिया कि किसी को धोखा नहीं दिया


हर शब्द में अर्थ होता है,

हर अर्थ में तर्क है,

सब कहते है की हम हँसते बहुत है,

पर हंसने वाले के दिल में भी तो दर्द होता है 


जिंदगी में खुद को कभी किसी इंसान का आदि मत बनाना,

क्योकि इंसान केवल अपने मतलब से ही प्यार करता है 


लोग पूछते है की क्या करती हूँ,

 उन्हें क्या बताऊ मोहोब्बत की थी,

और अब हर रोज़ मरती हूँ


वक़्त को भी हुआ है जरूर किसी से इश्क़,

की वो बेचैन है इतना की ठहरता ही नहीं


दर्द कम नहीं हुआ है मेरा,

बस सहने की आदत हो गयी है


मैंने कभी किसी को खुद से दूर नहीं किया,

बस जिसका-जिसका दिल भरता गया ,

वो खुद-म-खुद दूर जाता गया


चाह कर के भी उनका हाल नहीं पूछ सकते,

डर है कही कह न दे की ये हक्क तुम्हे किसने दिया


जिस चाँद के हज़ारों चाहने वाले होते है,

उसे एक सितारे की कमी कभी मेहसूस ही नहीं होती


आस्मां भरा रंगों से पर जिंदगी मेरी बेरंग,

न कोई मेरा अपना मेरे साथ है और न मेरी खुसी मेरे संग


इस जहाँ में कहाँ किसी का दर्द अपनाते है लोग,

रुख हवा का देखकर अक्सर बदल जाते है लोग 


टूट जाता है गरीब का वो रिस्ता जो ख़ास होता है,

पर हज़ारों यार बनते है जब पैसा पास होता है 


वक़त बदलने से उतनी तकलीफ नहीं होती,

जितनी किसी अपने के बदल जाने से होती है 


ना चाँद अपना था न ही तू अपना था,

काश ये दिल भी ये मान ले की सब सपना था


काश तु लोट कर आये और गले लगा कर कहे,

खुस तो मैं भी नहीं हूँ तुम्हारे बिना 


क्या लिखूं अब जिंदगी के बारे में,

जब वो लोग ही बिछड़ गए जो जिंदगी थे हमारी


कितना फर्क है न हम दोनों की चाहत में,

मुझे तुम्हे याद करने से फुर्सत नहीं,

और तुम्हे मुझे याद करने की फुर्सत नहीं 


वक़्त रहते तन्हाई की आदत डाल लो,

क्योकि जिंदगी भर कोई साथ नहीं देता 


ये दुनिया है, यहाँ लोग दिल से नहीं, जरूरत से प्यार करते है 


एक दर्द ही तो है, जो तुम्हारे जाने के बाद भी मेरा साथ दे रहा है 


जब दर्द सहने की आदत पड़ जाए,

तो आंसू निकलने अपने आप बंद हो जाते है


पहले तो शोक था तेरा, मेरा हाल पूछने का,

तो बताओ अब क्या हुआ,

हम वो नहीं रहे या दिन वो नहीं रहे

और नया पुराने