Hindi Love Shayari for Her



love shayari hindi english


1)..कितना प्यार है उनसे काश वो ये जान लें, वो ही है ज़िंदगी मेरी ये बात मान लें, उनको देने को नहीं कुछ पास हमारे, बस एक जान है हमारी जब चाहे मांग लें!

2)..मोहब्बत तो सिर्फ एक इत्तेफाक है, ये तो दो दिलों की मुलाकात है, मोहब्बत ये नहीं देखती कि दिन है या रात है, इसमें तो सिर्फ वफादारी और जज़्बात है।

3)..सफर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो, नजर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो, हजारों फूल देखे हैं इस गुलशन में मगर, खुशबू वहीं तक है जहाँ तक तुम हो

4)..कितना खूबसूरत चेहरा है तुम्हारा, ये दिल तो बस दीवाना है तुम्हारा, लोग कहते है चाँद का टुकड़ा तुम्हें, पर मैं कहता हूँ चाँद भी टुकड़ा है तुम्हारा।

5)..पहली मोहब्बत मेरी हम जान न सके, प्यार क्या होता है हम पहचान न सके, हमने उन्हें दिल में बसा लिया इस कदर कि, जब चाहा उन्हें दिल से निकाल न सके।

6)..तेरा नाम ही ये दिल रटता है, ना जाने तुम पे ये दिल क्यू मरता है, नशा है तेरे प्यार का इतना, कि तेरी ही याद में ये दिन कटता है।

7)..उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है, उनके इंतजार में दिल तरसता है, क्या कहें इस कम्बख्त दिल को.. अपना हो कर किसी और के लिए धड़कता है।

8)..जब कोई ख्याल दिल से टकराता है, दिल न चाह कर भी खामोश रह जाता है, कोई सब कुछ कहकर प्यार जताता है, कोई कुछ न कहकर भी सब बोल जाता है।

9)..आदत बदल दू कैसे तेरे इंतेज़ार की, ये बात अब नही है मेरे इकतियार की, देखा भी नही तुझ को फिर भी याद करते है, बस ऐसी ही खुश्बू है दिल मे तेरे प्यार की.

10)..आखों की गहराई में तेरी खो जाना चाहता हूँ आज तुझे बाँहों में लेकर सो जाना चाहता हूँ तोड़ कर हदे मैं आज सारी अपना तुझे बना लेना चाहता 

11)..हम पीना चाहते है.. उनकी निगाहों से, हम जीना चाहते हैं.. उनकी पनाहों में, हम चलना चाहते हैं.. उनकी राहों में, हम मरना चाहते हैं.. उनकी बाहों में!

12)..सकून मिलता है जब उनसे बात होती है, हज़ार रातों में वो एक रात होती है, निगाह उठाकर जब देखते हैं वो मेरी तरफ, मेरे लिए वो ही पल पूरी कायनात होती है।

13)..हमने जो की थी मोहब्बत वो आज भी है, तेरे जुल्फों के साये की चाहत आज भी है, रात कटती है आज भी ख्यालों में तेरे, दीवानों सी मेरी वो हालत आज भी है, किसी और के तसब्बुर को उठती नहीं. बेईमान आँखों में थोड़ी सी शराफत आज भी है। 

14).. पायलें बज रही हैं रह रह कर , ये हवा है कि चल रहे हो तुम। नींद भी टूटने से डरती है , मेरे ख़्वाबों में ढल रहे हो तुम।

15)..अगर तुम न होते तो ग़ज़ल कौन कहता, तुम्हारे चहरे को कमल कौन कहता, यह तो करिश्मा है मोहब्बत का.. वरना पत्थर को ताज महल कौन कहता।

16)..मेरी आँखों में झाँकने से पहले, जरा सोच लीजिये ऐ हुजूर.. जो हमने पलके झुका ली तो कयामत होगी, और हमने नजरें मिला ली तो मुहब्बत होगी।

17)..किसी को उनसे मिल के इश्क़ हुवा, किसी को उनको देख के इश्क़ हुवा, एक हम ही थे जो उनको न देखे न मिले, हमको तो उनसे हुई बातों से ही उनसे इश्क़ हुवा।

18)..किया है प्यार जिसे हमने ज़िन्दगी की तरह, वो मिला भी हमसे अजनबी की तरह, किसे ख़बर थी बढ़ेगी कुछ और तारीकी, छुपेगा वो किसी बदली में चाँदनी की तरह।
और नया पुराने