Good night shayari in hindi | Best good night shayari

Good night shayari in hindi | Best good night shayari

searching new Good night image with hindi shayari | गुड नाईट वाल्ल्पपेर्स शायरी ,good night pictures images,good night image for whatsapp .then plz click this link .from here you can share and send very lovely shayari of good night

ज़िन्दगी में कामयाबी की मंज़िल के लिए ख्वाब ज़रूरी है
और ख्वाब देखने के लिए नींद !
तो अपनी मंज़िल की पहली सीढ़ी चढ़ो !
और सो जाओ


good night in hindi


हमे सुलाने के ख़ातिर रात आती है,
हम सो नही पाते और रात सो जाती है,
हमने पूँछा दिल से तो ये आवाज़ आयी,
आज दोस्त को याद करले रात तो रोज़ आती है।


चाँदनी लेकर ये रात आपके आँगन में आये,
आसमान के सारे तारे लोरी गा कर आपको सुलायें
आपके इतने प्यारे और मीठे हों सपने आपके,
कि आप सोते हुए भी सदा मुस्कुराएं..!!!

चाँद की चांदनी में एक पालकी बनाई है
और ये पालकी हमने बड़े प्यार से सजाई है
दुआ है ए हवा तुझसे, ज़रा धीरे चलना
मेरे यार को बड़ी प्यारी नींद आई है


good night dosti shayari 


दिल की किताब में गुलाब उनका था,
रात की नींद में ख्वाब उनका था,
कितना प्यार करते हो जब हमने पूछा,
मर जायंगे तुम्हारे बिना ये जबाब उनका था.


हो चुकी रात अब सो भी जाइए
जो हैं दिल के करीब उनके ख्यालों में खो जाइए
कर रहा होगा कोई इंतज़ार आपका
ख़्वाबों में ही सही उनसे मिल तो आइये

Good Night Shayari In Hindi

सितारों में अगर नूर न होता ..
तन्हा दिल मजबूर न होता ..
हम आपको GooD Night कहने ज़रूर आते ..
अगर आप का घर दूर न होता




जी चाहता है तुम से प्यारी सी बात हो,
हसीं चाँद तारे हो, लम्बी सी रात हो,
फिर रात भर यही गुफ्तगू रखे हम दोनों,
तुम मेरी जिंदगी हो, तुम मेरी कायनात हो.
? Good Night Friend ?


रात की चांदनी आपको सदा सलामत रखे
परियों की आवाज़ आपको सदा आबाद रखे
पुरे कायनात को खुश रखने वाला वो रब
हर दिन आप की ख़ुशी का ख्याल रखे




good night in hindi
दिल में हल्का सा शोर हो रहा है ,
बिना SMS दिल बोर सा हो रहा है .
कहीं ऐसा तो नहीं एक प्यारा सा दोस्त .
GOOD NIGHT किये बिना सो रहा है .




खतम हो गई कहानी, बस कुछ अलफाज बाकी हैं;
एक अधूरे इश्क की एक मुकम्मल सी याद बाकी है।


चलते तो हैं वो साथ मेरे पर अंदाज देखिए,
जैसे की इश्क करके वो एहसान कर रहें है।



इश्क़ है तो शक कैसा
अगर नहीं है तो फिर हक कैसा..?



जाने कब उतरेगा क़र्ज़ उसकी मोहब्बत का . .
हर रोज आँसुओं से इश्क की किस्त भरते हैँ



राह यूँ ही नामुक्क्मल, ग़म-ए-इश्क का फ़साना,
मुझ को नींद नहीं आयी, सो गया ज़माना।


इश्क़ ने हमे बेनाम कर दिया,
हर खुशी से हमे अंजान कर दिया,
हमने तो कभी नही चाहा की हमे
भी मोहब्बत हो,
लेकिन तुम्हारी एक नज़र ने
हमे नीलाम कर दिया…
good night


खूबसूरत मैं नहीं ये तुम्हारा इश्क़ है…
जो नूर बनकर मेरी आँखों से छलकता है….


जूनून-ए-इश्क, नहीं रास आया हमें,
जब भी देखा आइना, अक्स उनका ही नजर आया हमें।



इश्क कर लिजीए बेइन्तेहा ~किताबोँ~ से,
जिन्दगी के पन्ने इन्ही से मुक्कमल होते हैं।



तकिये के नीचे दबा के रखे हैँ तुम्हारे ख्याल,
एक तेरा अक्स, एक तेरा इश्क़ , ढेरो सवाल और तेरा इंतज़ार।



good night shayari in hindi free download 

good night in hindi

यादों को तेरी हम प्यार करते हैं,
फुर्सत मिले तो हमे SMS करना,
क्योंकि रोज़ रात हम तेरे Good Night 
कहने का इंतज़ार करते हैं


मोहब्बत‬ नही थी तो एक बार समझाया‬ तो होता…
बेचारा‬ दिल तुम्हारी ‪#‎ख़ामोशी‬ को ‪इश्क़‬ समझ बैठा..!!



वो कहते है भूल जाओ पुरानी बातों को…..
कोई उसे समझाये कि इश्क़ कभी पुराना नहीं होता.



उस से कह दो के, मेरी सजा कुछ कम कर दे,
हम पेसे से मुजरिम नहीं हैं, बस गलती से इश्क हुआ है।



ना आह सुनाई दी ना तड़प दिखाई दी….!!
बर्बाद हो गए तेरे इश्क में हम बड़ी खामोशी के साथ….!



good night shayari with images 
good night image shayari
ऐ पलक तू बन्द हो जा,
कम से कम उनकी सूरत तो नजर आयेगी,
दिन तो ऐसे ही निकल जाता है,
कम से कम रात तो सुकून से गुज़र जायेगी






सच्चे इश्क में अल्फाज़ से ज्यादा..!
एहसास की एहमियत होती है…!।



इश्क को भी इश्क हो तो
फिर मैं देखूं इश्क को भी,
कैसे तड़पे कैसे रोये,
इश्क अपने इश्क में।



रहना यूं तेरे खयालों मे.. ये मेरी आदत है,
कोई कहता इश्क … कोई कहता इबादत है-



गलत सुना था कि,इश्क़ आँखों से होता हे
दिल तो वो भी ले जाते है,जो पलके तक नही उठाते हे



चाहे कितनी भी तकलीफ दे इश्क़,
पर सुकून भी इश्क़ से ही आता है।



बिन जले शमा के परवाना जल नही सकता,
क्या करे इश्क अगर हुस्न की सबकत ना करे।



किसी को इश्क़ की अच्छाई ने मार डाला,
किसी को इश्क़ की गहराई ने मार डाला,
करके इश्क़ कोई ना बच सका,
जो बच गया उससे तन्हाई ने मार डाला.


romantic good night hindi wallpapers 
good night love SHAYARI
ज़रा रोशनी के दिए बुझा दीजिए
अब और नहीं होता इंतज़ार आपसे मुलाक़ात का
ज़रा अपनी आँखों के परदे तो गिरा दीजिए
शुभ रात्रि


good night hindi shayari image

जाने उस शख्स को कैसे ये हुनर आता है
रात होती है तो आँखों में उतर आता है
मैं उस के खयालो से बच के कहाँ जाऊं
वो मेरी सोच के हर रस्ते पे नजर आता है


अब तो न दिन को करार है और न ही रात को चैन है,
अब तो बस उसकी यादों में बहते मेरी आँखों के रैन हैं।


कितनी जल्दी से मुलाक़ात गुजर जाती है
प्यास बुझती नहीं बरसात गुजर जाती है
अपनी यादों से कहो की यूँ ना सताया करे
नींद आती नहीं और रात गुजर जाती है


चाँद तारो से रात जगमगाने लगी
फूलों की खुशबू से दुनिया महकने लगी
सो जाओ रात हो गई है काफी
निंदिया रानी भी आपको देखने है आने लगी

रात क्या हुई रोशनी को भूल गए
चाँद क्या निकला सूरज को भूल गए
माना कुछ देर हमने आपको SMS नहीं किया
तो क्या आप हमें याद करना भूल गए


सितारे चाहते हैं की रात आये
हम क्या लिखें की आपका जवाब आये
सितारों जैसी चमक तो नही मुझमे
हम क्या करें की हमारी याद आये


Good-Night-


कितनी जल्दी ये शाम आ गई,
गुड नाइट कहने की बात याद अा गई,
हम तो बैठे थे सितारों की महफिल में,
चांद को देखा तो आपकी याद आ गई।
शुभ रात्रि


चाँद को बैठाकर पहरों पर;
तारों को दिया निगरानी का काम;
एक रात सुहानी आपके लिए;
एक स्वीट सा ‘ड्रीम’ आपकी आँखों के नाम!
शुभ रात्रि!


ऐसी हसीं आज बहारो की रात हैं
एक चाँद आसमा पैर हैं एक मेरे पास हैं
देने वाले ने कोई कमी ना की
किसको क्या मिला ये मुकद्दर की बात हैं
“शुभ रात्रि “


Shayari-in-Hindi-with-HD-images

good night love SHAYARI

खिड़की खोल तकिया मोड़ के सोया करो,
हम भी आएंगे तुम्हारे ख्यालों में,
इसलिये थोड़ी सी जगह छोड़ के सोया करो।
GOOD NIGHT 




ये रात चाँदनी बनकर आँगन में आये,
ये तारे लोरी गा कर आपको सुनाएं,
आयें आपको इतने प्यारे सपने यार…
कि नींद में भी आप हलके से मुस्कुराएं।

गुड नाईट शायरी

हर रात मैं भी आपके पास उजाला हो
हर कोई आपका चाहने वाला हो
वक़्त गुजर जाये उनकी यादो के सहारे
हो ऐसा कोई आप के सपनो को सजाने वाला हो
“शुभ रात्रि “


अगर मै हद से गुज़र जाऊ तो मुझे माफ़ करना
तेरे दिल में उतर जाऊ तो मुझे माफ़ करना
रात में तुझे देख के तेरे दीदार के खातिर
पल भर जो ठहर जाऊ तो मुझे माफ़ करना


रात गुमसुम हैं मगर चाँद खामोश नहीं
कैसे कह दूँ फिर आज मुझे होश नहीं
ऐसे डूबा तेरी आँखों के गहराई में आज
हाथ में जाम हैं, मगर पीने का होश नहीं


मुझे रुला कर सोना
तो तेरी आदत बन गई है
जिस दिन मेरी आँख ना खुली
तुझे निंद से नफरत हो जायेगी



चाँद ने चाँदनी बिखेरी है,
तारों ने आसमान को सजाया है,
कहने को तुम्हें शुभ रात्रि,
देखो स्वर्ग से कोई फरिश्ता आया है।
शुभ रात्रि

इश्क़ लिखने को इश्क़ होना बहुत जरूरी है
जहर का स्वाद बिना पिए कोई कैसे बताएगा :))



दिवाना हर शख़्स को बना देता है इश्क़,
सैर जन्नत की करा देता है इश्क़,
मरीज हो अगर दिल के तो कर लो इश्क़,
क्योंकि धड़कना दिलों को सिखा देता है इश्क़।



इश्क है वही जो हो एक तरफा;
इजहार है इश्क तो ख्वाईश बन जाती है;
है अगर इश्क तो आँखों में दिखाओ;
जुबां खोलने से ये नुमाइश बन जाती है।



बहुत महँगी हुई अब तो वफा,
लोग कहाँ मिलते हैं, जो सच्चा प्यार करें,
मोहब्बत तो बन गई है अब सजा,
आशिक कहाँ मिलते हैं,
जो संग-संग इश्क का दरिया पार करें।



हम एस कदर तुम पर मर मिटेंगे
तुम जहाँ देखोगे तुम्हे हम ही दिखेंगे



शायरी उसी के लबों पर सजती है साहिब
जिसकी आँखों में इश्क़ रोता हो



बड़ी अजीब सी मोहब्बत थी तुम्हारी…
पहले पागल किया…
फिर पागल कहा…
फिर पागल समझ कर छोड़ दिया.



इश्क का दस्तूर ही ऐसा है
जो इस को जन लेता है ये उसकी जन लेता है



घुटन सी होने लगी है, इश्क़ जताते हुए,
मैं खुद से रूठ जाता हूँ, तुम्हे मनाते हुए।



कुछ तो शराफत सीख ले, ऐ इश्क़ शराब से
बोतल पे लिखा तो होता है, मैं जानलेवा हूँ



बरसों से कायम है इश्क़ अपने उसूलों पर,
ये कल भी तकलीफ देता था ये आज भी तकलीफ देता है.



बंद कर दिए हैं हमने तो दरवाजे इश्क के
पर कमबख़्त तेरी यादें तो दरारों से ही चली आई..


इश्क की गहराईयों में.. खूबसूरत क्या है..!!
एक मैं हूँ, एक तुम हो और ज़रुरत क्या है..!!




उदासिया इश्क की पहचान है
मुस्कुरा दिए तो इश्क बुरा मान जाएगा…



नादानियाँ झलकती हैं अभी भी मेरी आदतों से
मैं खुद हैरान हूँ के मुझे इश्क़ हुआ कैसे



देखते हैं अब क्या मुकाम आता है साहब,
सूखे पत्ते को इश्क हुआ है बहती हवा से।



होशवालों को खबर क्या…
बेखुदी क्या चीज़ है…
इश्क कीजिये…फिर समझिये…
ज़िन्दगी क्या चीज़ है!



आधे से कुछ ज्यादा है,
पूरे से कुछ कम…
कुछ जिंदगी… कुछ गम,
कुछ इश्क… कुछ हम…



वो कहता है की बता तेरा दर्द कैसे समझू ..
मैंने कहा की इश्क़ कर और कर के हार जा



क्या हसीन इत्तेफाक था
तेरी गली में आने का,
किसी काम से आये थे
और किसी काम के ना रहे।



इश्क ने कब इजाजत ली है आशिकों से,
वो होता है और होकर ही रहता है।



यकीन है मुझ पर तो बेपनाह इश्क कर,
वफाए मेरी जवाब देगी तू सवाल तो कर।



बहुत थे मेरे भी इस दुनिया में अपने,
फिर हुआ इश्क और हम अकेले हो गए।




तुम हक़ीक़त-ए-इश्क़ हों या फ़रेब मेरी आँखों का,
न दिल से निकलते हो न मेरी ज़िन्दगी में आते हो…



खुदा तू इश्क न करना वरना बहुत पछतायेगा,
हम तो मर के तेरे पास आयेंगे तू कहाँ जायेगा।



इश्क़ है अगर तो शिकायत न कीजिए
और शिकवे हैं तो मोहब्बत न कीजिए

NOTE :- 
good night shayari in hindi for friendsgood night shayari in englishgood night shayari for dostgood night shayari for friendsgood night dosti shayari in hindigood night shayari in hindi 140good night shayari in hindi with imagegood night shayari in hindi download. 

Post a Comment

0 Comments